About us

Astrologer’s Journey :

Mrs. Vandana Sharma started her career from Rajasthan where she acquired fundamental knowledge of astrology form her maternal grandfather and later imbued in her life. Devoted and spiritual milieu provided her impetus to accrue astrology as her vocation which she is emanating since then.

Being a denizen in Gujrat and Daman & Diu she spread awareness about astrology from year 1998 to 2003.

She studied the dimension of South Indian astrology and spread positivity in the life of people in Thoothukudi near Rameshwaram from year 2003 to 2006.

She made Indian astrology to reach its culmination in South Africa from Year 2003 to 2009.

She radiated Indian spirituality and astrology in UAE which is well known for its materialistic culture on world map form Year 2009 to 2012.


Currently she’s helping people through astrology in Odisha (India). Like this Mrs. Vandana’s boding (astrology) is motley in nature. In very short span of time she has accentuated her work experience on national and international scale.

In her journey Mrs. Vandana has helped people of every section of society through her experience, be it an established politician class or celebrities from film industries and artistic society or sports world; a business class or a student class; a youth or people related to media.

ज्योतिष यात्रा :

श्रीमती वंदना शर्मा की ज्योतिषीय यात्रा राजस्थान से शुरू हुई जहाँ उन्होंने ज्योतिष के गूढ़ ज्ञान को अपने नानाजी से पाया और अपने जीवन में आत्मसात किया। भक्ति पूर्ण और आध्यात्मिक पारिवारिक वातावरण में अपने ज्ञान का संवर्धन किया और ज्योतिषीय ज्ञान का प्रसार किया ।

सन 1998..से 2003 में गुजरात व दमन - दीव में रहकर ज्योतिष के ज्ञान का प्रचार प्रसार किया ।

सन 2003 से 2006 में भारत के सुदूर दक्षिण प्रान्त में श्री रामेश्वर धाम के नजदीक ठुथिकुरिन में रहकर अपने ज्योतिषीय ज्ञान से लोगो की जिन्दगी को सकारात्मक स्पर्श दिया , साथ ही दक्षिणी भारत की ज्योतिषीय परम्पराओं का भी अध्ययन किया ।

सन 2006से 2009 में दक्षिण अफ्रीका में भारतीय ज्ञान को बुलंदियों तक पहुँचाया ।

सन 2009 से 2012 विश्व पटल पर अपनी भौतिकता वादी संस्कृति के लिए पहचान रखने वाले देश अरब अमीरात के दुबई में रहकर भारतीय आध्यात्म और ज्योतिष के ज्ञान को प्रसारित करने का कार्य किया ।


वर्तमान में भारत के उड़ीसा प्रान्त में रहकर ज्योतिषीय ज्ञान से लोगो को लाभान्वित करने का कार्य कर रही हैं । इस तरह श्रीमती वंदना शर्मा की ज्योतिषीय यात्रा बहुत ही विविधता लिए हुए रही है । बहुत ही कम उम्र में इन्होंने राष्ट्रिय व अंतरराष्ट्रीय स्तर पर कार्यानुभव प्राप्त किया है ।

श्रीमती वंदना शर्मा ने अपने ज्योतिषीय सफर में हर वर्ग के लोगों को अपने ज्योतिषीय अनुभवों से लाभान्वित किया है। फिर वो भले ही राजनेताओं का स्थपित वर्ग हो या इस दिशा के प्रयासरत नव युवा हों; सिनेमा व कला जगत से जुड़ी बड़ी हस्तियाँ हों या फिर खेल जगत से जुड़ी बड़ी हस्तियाँ; व्यवसायी वर्ग हो या नवयुवा वर्ग; विद्यार्थी वर्ग हो या फिर मीडिया से जुड़ी स्थापित हस्तियां ।